शेफाली ने किया पिता का सपना पूरा

नई दिल्ली। महज 15 साल 285 दिन की उम्र में अर्द्धशतक जड़ महान सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड भंग करना और अब टी-20 विश्व कप टीम में चयन के साथ सर्वश्रेष्ठ प्रथम प्रवेशी का बीसीसीआई का अवॉर्ड हासिल करना। दो माह के अंदर रोहतक की शेफाली वर्मा की यह उड़ान किसी स्वप्निल परीकथा से कम नहीं है, लेकिन इसके पीछे संघर्ष की ऐसी कहानी छुपी जो किसी के लिए भी प्रेरणा बन सकती है। तीन साल पहले की ही बात है शेफाली के पिता की जेब में महज 280 रुपये थे। ग्लव्स फट चुके और बैट .......

मैरीकॉम बनना चाहती है अर्चना थापा

देहरादून। दून के गढ़ी कैंट की रहने वाली अर्चना थापा बॉक्सर मैरीकॉम के जैसे कामयाब होना चाहती हैं। डीएवी (पीजी) कॉलेज से बीकॉम की पढ़ाई कर रही अर्चना राना ने बताया कि पिछले पांच साल से वह बॉक्सिंग खेल रही है। वह कहती है कि जब भी रिंग में उतरीं है तो उनके सामने देश के लिए गोल्ड जीतने का सपना आ जाता है। वह आज तक कई राज्य स्तरीय और राष्ट्रीय स्तर पर अपने मुक्के का जलवा दिखा चुकी है। अर्चना ने कहा कि वह बॉक्सिंग में ही अपना करियर बनाना चाहती हैं। साथ ह.......

शूटर इशा के लिए पिता ने छोड़ी रैली ड्राइविंग

खेलपथ प्रतिनिधि हैदराबाद। बच्चों की हर सफलता में उनके माता-पिता का त्याग समाहित होता है। अभिभावकों के बिना सहयोग के सफलता काफी मुश्किल होती है। बकौल शूटर इशा सिंह मेरी कामयाबी में मेरे पिता का सहयोग सर्वोपरि है। मेरे पिता ही मेरे भगवान हैं। उनके त्याग की बदौलत ही मैं निशानेबाजी में पहचान बना सकी। .......

शूटर अनीश बनवाला की प्रतिभा को सलाम

जीते चार गोल्ड मेडल करनाल। साउथ एशियन गेम के बाद अनीश बनवाला एक फिर चमके हैं। भोपाल में 17 से 4 जनवरी तक आयोजित नेशनल शूटिंग प्रतियोगिता में अनीश बनवाला ने 25 मीटर रैपिड फायर जूनियर, सीनियर इंडिविजुअल, नेशनल चैंपियनशिप इवेंट और टीम इवेंट में 4 गोल्ड मेडल जीत कर मनसूबे जाहिर कर दिये हैं। उन्होंने दिखा दिया है कि वह लम्बी रेस के खिलाड़ी हैं। भोपाल में चल रही नेशनल शूटिंग प्रतियोगिता में सभी प्रदेशों से करीब 250 शूटरों ने भाग लिया। अनीश न.......

मनु और अनीश ने जीते राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सीनियर और जूनियर वर्ग के खिताब

राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन मनु भाकर और अनीश भानवाला ने मंगलवार (24 दिसंबर) को यहां राष्ट्रीय निशानेबाजी चैंपिनशिप की क्रमश: महिला 10 मीटर एयर पिस्टल और पुरुष 25 मीटर रेपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में सीनियर और जूनियर वर्ग में स्वर्ण पदक जीते। हरियाणा का प्रतिनिधित्व कर रही 17 साल की मनु मंगलवार को चार स्वर्ण पदक (सीनियर और जूनियर वर्ग में व्यक्तिगत तथा टीम स्पर्धा में) जीते। वह प्रतियोगिता में पहले ही दो स्वर्ण जीत चुकी थी। उन्होंने खिताबी जीत के दौरान राष्ट्रीय क्वॉल.......

भूखे पेट दौड़ना मुश्किलः अनिता कुमारी

श्रीप्रकाश शुक्ला मैं देश के लिए दौड़ना चाहती हूं। मैं देश को मैडल दिलाना चाहती हूं। देश का गौरव बढ़ाना चाहती हूं। मैं दिन-रात मेहनत भी कर रही हूं। मैंने अपने राज्य उत्तराखंड को 400, 800 और 1500 मीटर दौड़ में दर्जनों मैडल दिलाए हैं लेकिन मैं अपने गरीब माता-पिता पर आखिर कब तक बोझ बनकर रहूंगी। मेरे पिता तांगा चलाते हैं, उनके सामने परिवार के भरण-पोषण की तमाम चुनौतियां हैं। तीन बहनों और दो भाइयों की उदरपूर्ति का भार तांगे की कमाई से नहीं चल पात.......

मुश्किल है पर लक्ष्य के दिमाग में है ओलंपिक क्वालिफिकेशन

सुपर सीरीज-500 से बढ़ेंगे आगे नई दिल्ली। सुपर-100 और चैलेंजर के पांच खिताब जीतने के बाद शटलर लक्ष्य सेन के दिमाग में टोक्यो ओलंपिक क्वालिफिकेशन घूमने लगा है। बांग्लादेश से खिताब जीतकर लौटने के बाद लक्ष्य ने कहा कि ओलंपिक क्वालिफिकेशन मुश्किल जरूर है, लेकिन वह इसके लिए प्रयास नहीं छोड़ेंगे। यही कारण है कि वह प्रकाश पादुकोण और विमल कुमार की सलाह पर नए साल की श.......

भारतीय शूटर एलावेनिल वालारिवान को मिला गोल्डन टारगेट अवॉर्ड

खेलपथ प्रतिनिधि नई दिल्ली। भारत की युवा निशानेबाज एलावेनिल वालारिवान को अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी महासंघ (आईएसएसएफ) ने 2019 में 10 मीटर एयर राइफल महिला स्पर्धा में उनके शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें गोल्डन टारगेट अवॉर्ड से नवाजा है। वालारिवान गगन नारंग स्पोर्ट्स प्रमोशन फाउंडेशन से निकली हैं और उन्हें ओलम्पिक पदक विजेता निशानेबाज गगन नारंग और पवन सिंह ने तराश.......

मानव ठक्कर ने खिताब जीतकर रचा इतिहास

भारत के युवा टेबल टेनिस खिलाड़ी मानव ठक्कर ने यहां आईटीटीएफ चैलेंज प्लस बेनेक्स विर्गो नॉर्थ अमेरिकन ओपन का खिताब जीतकर रविवार को इतिहास रच दिया। दूसरी सीड मानव ने पुरुषों के अंडर-21 वर्ग के फाइनल में अर्जेंटीना के मार्टिन बेंटानकोर को 11-3, 11-5, 11-6 से हराकर खिताब अपने नाम किया। मानव 2017 के बाद से इस खिताब को जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। 19 वर्षीय मावन इस खिताबी जीत के साथ ही आईटीटीएफ वर्ल्ड टूर अंडर-21 वर्ग में पुरु.......

गौरी ने लगाए सोने-चांदी पर निशाने

खेलपथ प्रतिनिधि चंडीगढ़ की निशानेबाज गौरी श्योराण ने आखिरकार साबित कर दिया कि उसे गोल्डन गर्ल ऐसे ही नहीं कहा जाता। गौरी ने साउथ एशियन गेम्स में 25 मीटर पिस्टल इवेंट में गोल्ड और सिंगल कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता है। साउथ एशियन गेम्स-2019 का नेपाल में एक से 10 दिसंबर तक करवाई जा रही है। बुधवार का दिन भारतीय निशानेबाजों के नाम रहा। महिला शूटिंग टीम ने 25 मीटर पिस्टल इवेंट के फाइनल में गोल्ड मेडल जीता। गोल्ड मेडल जीतने वाली टीम में शह.......