भारत की आज की जीत ही पहुंचाएगी अंतिम आठ में

जूनियर विश्व कप हॉकीः जर्मनी और नीदरलैंड क्वार्टर फाइनल में
खेलपथ संवाद
भुवनेश्वर।
कनाडा जैसी कमजोर टीम पर धमाकेदार जीत दर्ज करके अपने अभियान को ढर्रे पर लाने वाली गत चैम्पियन भारतीय टीम को जूनियर हॉकी विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए शनिवार को पोलैंड के खिलाफ पूल बी का आखिरी मैच हर हालत में जीतना होगा। उधर, जर्मनी और नीदरलैंड पहले ही क्वार्टर फाइनल में प्रवेश पा चुकी हैं।
खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे भारत को पहले ही मैच में फ्रांस से हार मिली थी। एक जीत और एक हार के बाद विवेक सागर की टीम पूल बी में दूसरे स्थान पर है। फ्रांस दोनों मैच जीतकर शीर्ष और पोलैंड तीसरे स्थान पर है। अंतिम-8 में भारत का सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त बेल्जियम से हो सकता है। भारत ने कनाडा के सामने चिर परिचित लय का प्रदर्शन किया। अब यहां से भारत को हर मैच जीतना होगा।
उपकप्तान और स्टार ड्रैग फ्लिकर संजय ने लगातार दो मैचों में हैटट्रिक लगाई जबकि उत्तम सिंह ने फॉरवर्ड पंक्ति में अच्छा प्रदर्शन किया। अरिजित सिंह ने भी कनाडा के खिलाफ हैट्रिक दागी है। छह बार की चैम्पियन जर्मनी और नीदरलैंड ने लगातार दूसरी जीत के साथ क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। जर्मनी ने पूल डी में अर्जेंटीना को 3-2 से पराजित किया। नीदरलैंड ने पूल सी के रोमांचक मुकाबले में स्पेन को 3-2 से हराया। स्पेन की यह पहली हार है।
अमेरिका पर बृहस्पतिवार को 17-0 की रिकॉर्ड जीत दर्ज करने वाली स्पेन की टीम ने नीदरलैंड को कड़ी टक्कर दी पर जीत नहीं दर्ज कर पाई। नीदरलैंड के लिए मिल्स ने 59वें मिनट में विजयी गोल दागा। 
स्पेन अपने ग्रुप में दूसरे स्थान पर है। उसके दक्षिण अफ्रीका के समान ही तीन अंक हैं लेकिन गोल अंतर से स्पेन आगे है। दक्षिण कोरिया ने अमेरिका को 5-1 से मात देकर पहली जीत दर्ज की। दक्षिण कोरिया को आखिरी लीग मैच में स्पेन से सामना होगा। इस मैच की विजेता टीम अगले दौर में पहुंचेगी। दक्षिण अफ्रीका ने चिली को 5-1 से हराकर ग्रुप ए से आगे बढ़ने की अपनी उम्मीदें कायम रखी हैं। दक्षिण अफ्रीका की यह पहली जीत है।

रिलेटेड पोस्ट्स