मैराथन धावक केल्विन किपटुम की 24 साल की उम्र में मौत

इतिहास रचने वाले धावक ने सड़क हादसे में गंवाई जान
खेलपथ संवाद
नई दिल्ली।
मैराथन के विश्व रिकॉर्ड धारक और पेरिस ओलम्पिक में स्वर्ण के प्रबल दावेदार केल्विन किपटुम की पश्चिमी केन्या में एक कार दुर्घटना में मौत हो गई। यह 24 वर्षीय खिलाड़ी रविवार को स्थानीय समयानुसार रात करीब 11 बजे कप्टागाट से एल्डोरेट जा रहा था, तभी कार लुढ़क गई। इसमें केल्विन के अलावा उनके रवांडा के कोच गेरवाइस हकीजिमाना की मौत हो गई।कार में तीन लोग सवार थे, दो की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक को अस्पताल ले जाया गया। पश्चिमी केन्या के एल्गियो माराकवेट काउंटी के पुलिस कमांडर पीटर मुलिंगे ने इसकी पुष्टि की है। पुलिस ने कहा- केल्विन एल्डोरेट की ओर जा रहे थे और वाहन ने नियंत्रण खो दिया और खाई में गिर गई, जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। एक महिला यात्री घायल हो गईं और उन्हें अस्पताल ले जाया गया है। केल्विन ने मैराथन में तब तहलका मचाया था जब उन्होंने पिछले साल अक्तूबर में शिकागो में विश्व रिकॉर्ड 2:00:35 का समय लेकर स्वर्ण जीता था। उन्होंने साथी केन्याई एलियुड किपचोगे के पिछले रिकॉर्ड को 34 सेकंड से तोड़ा था। केल्विन उस समय सिर्फ 23 वर्ष के थे और केवल अपने तीसरे मैराथन में प्रतिस्पर्धा कर रहे थे।
किपटुम ने अपने अन्य दो प्रयासों में भी जीत हासिल की थी। 2022 में वेलेंसिया और फिर अगले साल लंदन में भी विजयी अभियान जारी रखा। केन्या के इस एथलीट ने घोषणा की थी कि वह 14 अप्रैल को रोटरडम में दो घंटे से कम में रेस पूरा करने और ऐसा करने वाले पहले व्यक्ति बनने की कोशिश करेंगे। हालांकि, इससे पहले ही उनका निधन हो गया। वह पेरिस ओलंपिक 2024 के लिए प्रबल दावेदार थे। विश्व एथलेटिक्स ने किपटुम को हाल के समय के सबसे प्रभावशाली एथलीट के रूप में श्रद्धांजलि दी है। विश्व एथलेटिक्स के अध्यक्ष सेबेस्टियन को ने एक बयान में कहा, "हम केल्विनऔर उनके कोच गेरवाइस हकीजिमाना के निधन के बारे में जानकर हैरान और गहरे दुख में हैं। विश्व एथलेटिक्स की ओर से हम उनके परिवारों, दोस्तों, टीम के साथियों और केन्याई राष्ट्र के प्रति अपनी गहरी संवेदना भेजते हैं।

रिलेटेड पोस्ट्स